ARABhojpur

आरा : शिक्षकों की कमी से अभिभावकों में आक्रोश, स्कूल में जड़ा ताला…

आरा : प्रखंड मुख्यालय स्थित कोईलवर नगर पंचायत के वार्ड नंबर 01 कटकैरा में 1952 से अवस्थित प्राथमिक विद्यालय, अब उत्क्रमित मध्य विद्यालय, में शिक्षकों की कमी के कारण प्रभावित पठन पाठन से आजिज व तंग आये अभिभावकों व स्थानीय लोगों ने सोमवार को विद्यालय में ताला जड़ दिया। बीते कई महीनों से इसमें प्रधानाध्यापक समेत सिर्फ दो ही शिक्षक कार्यरत हैं, जबकि उत्क्रमित मध्य विदयालय हो जाने के कारण इसमें कक्षा 1से 8 तक की पढ़ाई का प्रावधान है ।

बताया गया कि इसमें 140 छात्र छात्रओं का नामांकन है । इसमें प्रधानाध्यापक वशिष्टमुनि राम एवं सहायक शिक्षक संजय कुमार पर विद्यालय सम्बंधी विभागीय कार्य देखने व 8 क्लास के 140 बच्चों के पढ़ाने की जिम्मेवारी हैं। प्रधानाचार्य के स्कूली एवं सरकारी कार्यों में व्यस्त रहने के कारण 1 से 8 तक के स्कूली बच्चों को पढ़ाने के लिए सिर्फ एक ही सहायक शिक्षक बचते हैं।

समझा जा सकता है कि एक शिक्षक के लिये 8 कक्षा के बच्चों को पढ़ाना कैसे संभव हो सकता है । ऐसी अब्यवहारिक व्यवस्था से तंग व आजिज आकर कटकैरा वासियों ने सोमवार को शांतिपूर्ण ढंग से प्रधानाध्यापक व सहायक शिक्षक को विद्यालय में प्रवेश करने नही दिया और सुबह ताला जड़ दिया। कोईलवर वार्ड नंबर 01 के वार्ड सदस्य ने शिक्षकों की नियुक्ति हेतु कई ज्ञापन संबंधित अधिकारी एवं नगर पंचायत आफिस में दे कर पठन पाठन की बदतर स्थिति से अवगत कराया ।

बताया गया कि उसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। स्थानीय लोगों ने बताया कि जब से इस विद्यालय को प्राथमिक विद्यालय से उत्क्रमित मध्य विद्यालय में तब्दील किया गया तभी से यहां पर शिक्षकों की कमी लगातार देखी गई । एक दो शिक्षक से मध्य विद्यालय में 8 क्लास चलना पूरी तरह अव्यवहारिक है । तालाबंदी के बाद एक मत से लोगों ने कहा है कि जब तक हमारी समस्याओं का समाधान नहीं हो जाता अर्थात पर्याप्त शिक्षक पदस्थापित नही किये जाते तब तक तालाबंदी जारी रहेगी।

सूत्रों के अनुसार पूर्व बी ओ ने यहां दो शिक्षकों को प्रतिनियुक्त किया था। जिन्हें उनके मौलिक विद्यालय वापस भेज दिया गया। इस मौके पर धनजंय कुमार, राम जी सिंह, रामनाथ सिंह, गणोश सिंह, रामानन्द सिंह, अमित कुमार, नीरज कुमार, अमत राज, मुकेश कुमार, नित्यानन्द, राम निवास, गुड्डू कुमार, राजेन्द्र सिंह, राजाराम सिंह आदि थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

बिहार की खबरों से रहे अपडेट

Close