Big NewsBreaking NewsMadhubani

जनवितरण प्रणाली मेधा सूची में अनिमियता की शिकायत….

आरोप है कि अतिपिछड़ा के लिए आरक्षित सीट पर मेधा सूची में अनुसूचित जनजाति को आवंटित कर दिया गया.../...

मधुबनी । अंधराठाढ़ी। संस। प्रखंड में जनवितरण प्रणाली की प्रकाशित मेधा सूची में कई तरह की अनिमियतता की शिकायत मिल रही है। ताज़ा मामला प्रखंड के जलसैन पंचायत का है। आरोप है कि अतिपिछड़ा के लिए आरक्षित सीट पर मेधा सूची में अनुसूचित जनजाति को आवंटित कर दिया गया। आवेदकों का आरोप है कि इस चलते अनुसूचित जनजाति के बहुत से उम्मीदवार आपने आवेदन देने से वंचित रह गए।
इस मामले को लेकर पंचायत के योगेंद्र राम ने एसडीओ विमल कुमार मंडल और जिला समाहर्ता को एक कोर्ट नोटिस भेजकर इस सीट को रद्द करने की मांग की है। अपने नोटिस में योगेंद्र राम ने कहा है कि उनके पिता राजेश्वर राम पूर्व में जान वितरण प्रणाली के विक्रेता थे। उनके निधन से पंचायत में डीलर का सीट खाली हुआ था। योगेंद्र राम ने अनुकंपा के आधार पर आवंटन के लिए झंझापुर में आवेदन भी दाखिल किया था।
इसी बीच जनवितरण प्रणाली के लिए रिक्तियां निकाली गई। मगर जलसैन पंचायत को अति पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित कर दिया गया। इसीलिए उनके सहित अनुसूचित जाति के आवेदक आवेदन नही कर पाए। मगर जब पंचायत की मेधा सूची निकली तो इस सीट को अनुसूचित जाति के उम्मीदवार को आवंटित कर दिया गया। जो पूरी तरह गलत और असंवैधानिक है।
अपने नोटिस में उन्होंने इस आवंटन को रद्द करके दुवारा से रिक्ति प्रकशित करने की मांग की है। ताकि सभी योग्य उम्मीदकार अपना आवेदन दे सके। इस बारे में पूछने पर एसडीओ विमल मंडल ने बताया कि ये अनुसूचित जाति के लिए बैकलॉग सीट इसलिए उन्ही को अलॉट किया गया। हालांकि ना तो आवेदन और ना ही मेधा सूची में बैक लॉग की कोई चर्चा थीी ||

NBL Madhubani

"है जो जमीर जालिम उसे बेनकाब कर दे,ये खामोशी तोड़ दे तू इंकलाब कर दे"

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

बिहार की खबरों से रहे अपडेट

Close