ARABhojpur

कोचिंग सेंटर खोलने पर संचालक को मिली धमकी, बोले- जिंदगी पर रेड पेन चला देंगे…

आरा : नवादा थाना क्षेत्र के केजी रोड स्थित एक कोचिंग संचालक प्रेम कुमार सिंह और कन्हैया सिंह को कोचिंग खोले जाने पर सोमवार की दोपहर एक बार फिर जान से मारने की धमकी दी गई। दोपहर करीब बारह बजे वाट्सएप नंबर से कोचिंग संचालक को कॉल कर अपराधियों ने जिंदगी पर रेड पेन चलाने की खौफनाक धमकी देकर सनसनी फला दी। जिसके बाद कोचिंग संचालक प्रेम कुमार सिंह ने एसपी अवकाश कुमार से मिलकर सुरक्षा की गुहार लगाई है। लगातार तीसरी बार फोन कॉल आने के बाद केजी रोड स्थित को¨चग सेंटर पर पुलिस फोर्स की भी तैनाती कर दी गई है। खुद नवादा थाना इंस्पेक्टर सुबोध कुमार भी सोमवार को को¨चग सेंटर पर कैंप करते देखे गए। रंगदारी की घटना को लेकर एसपी अवकाश कुमार ने संबंधित थाना को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया है। हालांकि, अभी तक कुख्यात की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। वैसे पुलिस रंगदारी से जुड़े मामले में बेलाउर एवं सरथुआ समेत अन्य संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर एक-दो संदिग्धों को उठाया है। जिनसे लगातार पूछताछ चल रही है।

14 अप्रैल को मांगी गई थी 10 लाख रुपये रंगदारी…

आपको बताते चलें कि मुफस्सिल थाना के गंगहर गांव निवासी कन्हैया सिंह एवं शोभी डुमरा गांव निवासी प्रेम कुमार सिंह बैंक, रेलवे, एसएससी की तैयारी को लेकर आरा शहर में वन स्टेप को¨चग चलाते है। के.जी रोड नवादा के अलावा बाजार समिति एवं बक्सर समेत गया जिले में भी कोचिंग की शाखा है। 14 अप्रैल को पहली बार फोन कॉल कर कुख्यात अभिषेक के नाम पर कोचिंग संचालक कन्हैया सिंह से दस लाख रूपये रंगदारी मांगी गई थी। इसके अलावा केस करने पर गोलियों से भून देने की धमकी भी दी गयी थी। रंगदारी मांगे जाने के दौरान अपराधियों ने पेपर का कटिंग भी भेजा था और पांच दिनों के अंदर रंगदारी नहीं दिए जाने पर अंजोरा क्लिनिक एवं मोबाइल दुकानदार सुमित एवं को¨चग संचालक धीरज की कहानी दुहराने की धमकी भी दी गई थी। बावजूद कोचिंग संचालक ने केस दर्ज कराया था।

पुलिस अफसर के सामने हीं आया तीसरी बार कॉल:

बताया जा रहा कि नवादा थाना में केस दर्ज कराए जाने के बाद 15 अप्रैल की सुबह 11.36 बजे फिर अपराधियों ने वाट्सएप कॉल के जरिए को¨चग संचालक को फोन किया था। फोन करने वाले शख्स ने केस दर्ज कराए जाने पर नाराजगी जताते हुए धमकाया था कि तुम्हारी ¨जदगी पर रेड पेन चल गया है। सोलह अप्रैल से को¨चग बंद करने की धमकी दी थी। को¨चग बंद नहीं करने पर गोलियों से भून देने की धमकी दी गयी थी। इधर, धमकी के बावजूद सोमवार को संचालक ने अपना को¨चग सेंटर खोला। सुरक्षा को लेकर पुलिस फोर्स से लेकर अफसर की भी तैनाती कर दी गयी। खुद नवादा थाना इंस्पेक्टर सुबोध कुमार भी यहां कैंप करते देखे गए। इस बीच पुलिस अफसरों की मौजूदगी में पुन: फिर वाट्सएप नंबर से कॉल आया। कॉल करने वाले अपराधी ने कहा कि बोलने के बाद भी को¨चग सेंटर खोल दिए हो। अब अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहो। इधर, तीसरी बार लगातार फोन कॉल आने के बाद को¨चग संचालक भयभीत हो गया। जिसके बाद को¨चग संचालक ने पुलिस कार्यालय में जाकर एसपी अवकाश कुमार से सुरक्षा की गुहार लगाई है। इसके अलावा केजी रोड समेत बाजार समिति स्थिति केन्द्र पर पुलिस बल की तैनाती की मांग की है। जिससे की कोचिंग संस्थान को बंद नहीं करना पड़े।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

बिहार की खबरों से रहे अपडेट

Close