Big NewsBreaking NewsMadhubaniPatna

शिक्षा के मंदिर में जमकर चला जूता-चप्पल, महिला शिक्षक को एचएम ने पीटा…..

महिला ने बताया अवकाश का आवेदन दूसरी महिला शिक्षक को देने पर बिफरे प्रधानाध्यापक। जूता-चप्पल चलने के बाद परिजनों को स्कूल बुलाकर महिला शिक्षक को पिटवाया। जानिए पूरा मामला....../...

मधुबनी | स्कूल को विद्या का मंदिर कहा जाता हैं। यहां नौनिहालों को अनुशासन का पाठ भी पढ़ाया जाता है। मगर, कुछ शिक्षकों की करतूत से विद्या का यह मंदिर सोमवार को शर्मसार हो गया। मामला प्रखंड के मधुबन उत्क्रमित विद्यालय का है। यहां मामूली विवाद में महिला शिक्षक और प्रधानाध्यापक में जमकर मारपीट हुई। जूता-चप्पल भी चलाए गए। मामला यहीं नहीं थमा।

प्रधानाध्यापक ने परिजनों को स्कूल बुलाकर महिला शिक्षक की जमकर पिटाई कराई। बाद में किसी तरह बीच बचाव कर मामला शांत कराया गया। इस घटना को लेकर प्रखंड शिक्षा विभाग की भी खूब किरकिरी हुई है। हालांकि, पहले भी इसको लेकर कई बार विवाद हो चुका है। मगर, किसी ने इस मामले में संज्ञान लेना जरूरी नहीं समझा।

बताया जाता है कि शिक्षक प्रियंका कुमारी किसी काम से अवकश पर थीं। उन्होंने एक अन्य महिला शिक्षक को अवकाश का आवेदन दे दिया था। प्रधानाध्यापक मोतिउर्रह्मान को ये बात नागवार गुजरी। वे इसपर बिफर उठे। विद्यालय आते ही महिला शिक्षिक पर बरस पड़े। विवाद इतना बढ़ गया कि शिक्षक प्रियंका और प्रधानाध्यापक के बीच हाथापाई शुरू हो गई। आक्रोशित प्रधानाध्यापक ने तुरंत अपने परिजनों को विद्यालय बुला लिया। इसके बाद सभी ने मिलकर महिला शिक्षक को बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया। इस खबर के फैलते ही स्थानीय लोग आक्रोशित हो उठे। सभी प्रधानाध्यापक के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग को लेकर स्कूल पर हंगामा करने लगे। किसी तरह बीच-बचाव कर फिलहाल मामला को शांत किया गया।

इस बाबत शिक्षक प्रियंका कुमारी ने बताया कि वह समस्तीपुर से आती हैं। देर से पहुंचने या अवकाश को लेकर प्रधानाध्यापक उनसे लगातार दुव्र्यवहार करते रहते हैं। आज भी वे गाली गलौज करने लगे। उनके सब्र का बांध टूट गया। प्रधानाध्यापक से इसी को लेकर विवाद हो गया। प्रधानाध्यापक ने अपने परिजनों को बुलाकर उसे खूब मारा-पीटा। महिला शिक्षक के समर्थन में दर्जनों की संख्या में छात्र-छात्राएं थाना पहुंच गए। वे प्रधानाध्यापक पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। इस संबंध में थाना में आवेदन दिया गया है।

उधर, प्रधानाध्यापक मोतिउर्रह्मान ने कहा कि वे शिक्षक से आवेदन के बारे में पूछताछ कर रहा था। उसने मेरे ऊपर हाथ उठा दिया। प्रखंड शिक्षा अधिकारी महेश प्रसाद ने कहा कि मामले की जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। इस तरह की शर्मनाक घटना फिर से ना हो इसके लिए भी नियम कायदे तय करेंगे ||

NBL Madhubani

"है जो जमीर जालिम उसे बेनकाब कर दे,ये खामोशी तोड़ दे तू इंकलाब कर दे"

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

बिहार की खबरों से रहे अपडेट

Close