Patna

पंचकोशी यात्रा में शामिल हुए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे…

NBL पटना : बक्सर के प्रसिद्ध पंचकोशी यात्रा में आज केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे ने बड़कानुआंव में भाग लिया। विगत 27 नवंबर को यह पांच दिवसीय पंचकोशी यात्रा की शुरुआत हुई थी जिसका आज चौथा दिन है। साधु संतों और श्रद्धालुओं के साथ दोपहर में यात्रा में शामिल होकर श्री चौबे इसके विश्राम स्थल अंजनी सरोवर तक गए ।

अंजनी सरोवर पर ही श्रद्धालु स्नान कर रात्रि विश्राम करते हैं और पांचवें दिन की यात्रा यहां से शुरू कर चरित्रवान पर संपन्न करते है। अंजनी सरोवर पर साधु-संतो, भक्तों व श्रद्धालुओं के साथ श्री चौबे ने सत्तू और मूली का प्रसाद ग्रहण किया और अपने हाथों से साधु संतों को इसका प्रसाद ग्रहण करवाया भी।

केंद्रीय मंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे की मीडिया प्रभारी वेदप्रकाश ने बताया कि इस यात्रा में विभिन्न जगहों पर अपने संबोधन तथा श्रद्धालुओं के साथ बातचीत में श्री चौबे ने इस यात्रा का महत्व बताते हुए कहा कि “भारतीय संस्कृति और सनातन परंपरा की यह प्राण है। त्रेता युग में आरंभ हुए पंचकोसी परिक्रमा आज भी कायम है।

भगवान श्रीराम त्रेता युग में विश्वामित्र के यज्ञ को सफल कराने तथा राक्षसों ताड़का, मारीच और सुबाहु मारकर सिद्धाश्रम को मुक्त कराने आए थे। यह कार्य संपन्न करने के बाद भगवान श्री राम और लक्ष्मण ने साधु संतों के मंडली के साथ 5 ऋषि-मुनियों के आश्रम का परिक्रमा किया था। इन ऋषि-मुनियों ने भगवान श्री राम और उनके साथ आए श्रद्धालुओं को प्रसाद ग्रहण कराया था।

रात्रि में श्री राम के साथ सभी लोगों ने इन्हें जगहों पर रात्रि विश्राम भी किया था। उसी समय से यह परंपरा निर्बाध रूप से चलती आ रही है और बक्सर के परम श्रद्धालु जनता के साथ देशभर के श्रद्धालु आज भी यह यात्रा बड़ी श्रद्धा के साथ करते हैं। कहाजाता है कि पंचकोसी परिक्रमा करने वाले लोगों को पंच भौतिक पापों से मुक्ति मिलती है।”

श्री चौबे ने आगे कहा कि “धन्य है यह देश और धन्य है बक्सर की पावन भूमि और यहां के लोग जो आज तक इस ऐतिहासिक परंपरा को कायम रखे हुए हैं। धार्मिक महत्व जो भी हो लेकिन लोगों में धर्म, अध्यात्म, नैतिकता तथा अपने पूर्वजों, परंपरा व संस्कृति को कायम रखने और उनको सम्मान देने की जो प्रवृत्ति है उससे सिर्फ सद्गुण ही आ सकता है और ये बक्सर की महान जनता में कूट कूट कर भरी है।इसका मैं हृदय से अभिवादन करता हूँ और अपने को सौभाग्यशाली मानता हूँ कि इस महान जगह और यहां की आदरणीय जनता का मैं लोकसभा में प्रतिधिनित्व करता हूँ।
श्री चौबे के साथ यात्रा में अनेक भाजपा नेता कार्यकर्ता सामाजिक कार्यकर्ता और पंचकोसी परिक्रमा समिति के सचिव डॉक्टर राम नाथ ओझा सहित समिति के अन्य सदस्य और कार्यकर्ता भी मौजूद थे।

– भभुआ के पूर्व विधायक स्वर्गीय आनंद भूषण पांडेय के पुण्य भूमि में शामिल हुए-

पंचकोशी परिक्रमा यात्रा में शामिल होने के पूर्व अश्विनी चौबे भभुआ के पूर्व विधायक स्वर्गीय आनंद भूषण पांडे के प्रथम पुण्य भूमि में शामिल हुए। स्वर्गीय पांडे के चित्र पर पुष्पार्पण कर श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि “उनके जैसे कर्मशील और अच्छे जनप्रतिनिधि के असमय स्वर्गवास से सिर्फ उन्हें ही नहीं क्षेत्र की संपूर्ण जनता को बहुत दुख है। उनके अधूरे कार्यों को उनकी पत्नी रिंकी पांडेय बड़े समर्पण भाव से जनता की सेवा कर पूरा कर रही है। जहां भी हमारी आवश्यकता होती है मैं क्षेत्र की जनता के सहयोग के लिए तैयार रहता हूं।”

श्री चौबे ने इसके उपरांत सर्किट हाउस कैमूर में जिलाधिकारी तथा अन्य पदाधिकारियों के साथ सांसद आदर्श ग्राम बरोड़ा तथा रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विकास कार्यों की समीक्षा की तथा लंबित कार्यों को त्वरित गति से निष्पादन करने का निर्देश दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

बिहार की खबरों से रहे अपडेट

Close