Viral News

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी नहीं रहे,औपचारिक ऐलान बाकी …

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी नहीं रहे..


भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की तबीयत अचानक स्वतंत्रता दिवस के दिन दोपहर के बाद से बिगड़ गई। इसकी सूचना मिलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उन्हें देखने एम्स पहुंचे उनके साथ स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे भी मौजूद रहे। करीब एक घंटे तक एम्स के डॉक्टरों से प्रधानमंत्री ने बात कर बाजपेयी जी के स्वास्थ्य पर चर्चा किया। उसके बाद से एम्स में अटल बिहारी बाजपेयी जी से मिलने वालों का तांता लग गया है। भाजपा के वरिष्ठ नेता ललाकृष्ण आडवाणी सहित अटल जी की दत्तक पुत्री नमिता भी एम्स पहुंच चुकी हैं।

एम्स द्वारा मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया कि पिछले 24 घंटों में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की हालत बिगड़ी है। वह अभी लाइफ सपॉर्ट सिस्टम पर हैं। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू एवं भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह सुबह एम्स पहुंच पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का हालचाल लिए। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी दिल्ली के लिए रवाना हो चुकी हैं। अटल जी के तबियत खराब होने से जुड़ी इस खबर के बाद एम्स के बाहर मीडिया का जमावड़ा लगा हुआ है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार दोपहर भारत रत्न व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत खराब होने की खबरों के बाद से भाजपा सहित अन्य दलों के नेताओं का आना जाना जारी है। इस बीच राहुल गांधी के भी एम्स आने की खबर है।

 

जैसे जैसे यह खबर फैल रही है पूर्व प्रधानमंत्री को देखने के लिए लोग एम्स का रुख कर रहे हैं। पिछले एक सप्ताह से अटल जी आइम्स में भर्ती है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, हर्षवर्धन, सुरेश प्रभु, जितेंद्र सिंह, और भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन भी एम्‍स पहुंचे। सूत्रों की माने तो अटल जी की किडनी इंफेक्शन की समस्या है जिसके कारण उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है। इसके साथ ही जो एम्स के सूत्रों ने बताया उसके अनुसार सुबह वाजपेयी को सांस लेने में तकलीफ हुई थी.इसके बाद उन्हें जरूरी दवाइयां दी गई थीं।

दोपहर तक उनकी तबीयत स्थिर हो गई थी। गौरतलब है कि पूर्व प्रधानमंत्री पिछले दो माह से एम्स में भर्ती हैं। विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम उनके स्वास्थ्य की निगरानी कर रही है. उन्हें सांस लेने में परेशानी, यूरीन व किडनी में संक्रमण होने के कारण 11 जून को एम्स में भर्ती किया गया था। एम्स के निदेशक डा. रणदीप गुलेरिया की देखरेख में पूर्व प्रधानमंत्री का इलाज चल रहा है. बताया जा रहा है कि सुबह से अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत नाजुक बताई जा रही है. एम्स के अनुभवी डॉक्‍टरों की टीम उनकी सेहत पर नजर बनाए हुए है। वहीं देश भर में उनके स्वास्थ्य और कुशलता के लिए लोग पूजा पाठ कर रहे हैं।

Related Articles

1 thought on “भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी नहीं रहे,औपचारिक ऐलान बाकी …”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×

बिहार की खबरों से रहे अपडेट

Close